Free Reg. for Online Exams

ARTICLE DESCRIPTION

संपादकीय

एक डिजिटल युद्ध में

27.10.18 129 Source: the hindu
एक डिजिटल युद्ध में

जब तक सेना के सूचना प्रौद्योगिकी की आधारभूत संरचना जल्द से जल्द स्वदेशी नहीं बन जाती, तब तक भारत साइबर
स्पेस में व्याप्त चुनौतियों का आमना-सामना नहीं कर सकता।
वर्ष 2014 में संयुत्तफ़ कमांडरों के सम्मेलन के दौरान अपने पहले संबोधन में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल सशस्त्र बल की अपनी दृष्टि और साइबर अंतरिक्ष पर हावी होने के बढ़ते महत्त्व के बारे में बात की थी। जिसके परिणामस्वरूप अगले वर्ष, आईएनएस विक्रमादित्य पर, उन्होंने वरिष्ठ सैन्य नेतृत्व से साइबर स्पेस में प्रतिद्वंद्वियों के लिए तैयार होने के लिए कहा। इन दो सम्मेलनों में एक सामान्य विषय घरेलू क्षमताओं के विकास को प्रोत्साहित करने में सेवाओं की भूमिका थी।

Download pdf to Read More