ABOUT GS WORLD

DIRECTOR’s MESSAGE

प्रिय सिविल सेवा अभ्यर्थियों

हमारा संस्थान सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी के लिए उत्कृष्टता एवं गुणवत्ता का केन्द्र है_ सिविल सेवा की तैयारी कर रहे छात्रें को परीक्षा केन्द्रित एवं नवाचारी कोचिंग प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। सिविल सेवा परीक्षा संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित भारत वर्ष की सबसे प्रतिष्ठित सेवा है जो कि भारतीय सरकारी मशीनरी की रीढ़ की हड्डी मानी जाती है। सिविल सेवा के अंतर्गत आई-ए-एस-, आई-पी-एस-, आई-एफ-एस- आदि जैसी अखिल भरतीय शीर्ष नौकरियाँ आती हैं। भारत जैसे एक विशाल एवं विविधता संपन्न देश के प्रशासन को चलाने उसके प्राकृतिक, आर्थिक और मानव संसाधनों के विकास एवं कुशल प्रबंधन की जिम्मेदारी सिविल सेवकों को सौंपी गई है।

वर्तमान में सिविल सेवा परीक्षा के पाठ्यक्रम से लेकर व्यक्त्वि परीक्षण तक में आमूल-चूल परिवर्तन हुए हैं। जिससे आज यह परीक्षा उम्मीदवारों के लिए अधिक चुनौतीपूर्ण हो गई है। अभ्यर्थी सिर्फ पढ़ने पर ध्यान देते हैं और सिविल सेवक बनने के मूल मंत्र रणनीति और अभ्यास में पिछड़ जाते हैं। अतः इस परीक्षा के कुछ महत्वपूर्ण आयाम होते हैं, जिन्हें समझना बेहद आवश्यक है।

इसके लिए GS World की टीम ने कई वर्षों के गहन अनुसंधान एवं विश्लेषण के पश्चात संघ लोक सेवा आयोग की जरूरतों को समझते हुए सही रणनीतिक ढांचा तैयार किया है। संस्थान ने लीक से हटकर उद्यमिता के एक ऐसे मार्ग का निर्माण करने का प्रयास किया है, जिसमें सिविल सेवा के उम्मीदवारों का शैक्षणिक और व्यक्तित्व की दृष्टि से विकास करना और उन्हें सफलता के मार्ग पर अग्रसर होने के लिए यथा-संभव सामर्थ्यपूर्ण बनाता है। उद्यमिता केवल व्यवसाय तक सीमित नहीं है, यहां उद्यमशीलता सिविल सेवक तैयार करने में वांछनीय और महत्वपूर्ण योगदान देती है। मैं एक परिचर्चा सत्र हेतु संस्थान में आपका स्वागत करता हूं और भविष्य के लिए आपको सर्वोत्तम शुभकामनाएं देता हूं।

शुभकामनाओं सहित

नीरज सिंह (Managing Director)