Free Reg. for Online Exams

ARTICLE DESCRIPTION

संपादकीय

नोट ऑफ डिसेन्ट

27.10.18 217 Source: Indian Express
नोट ऑफ डिसेन्ट

एक अलग भुगतान नियामक के लिए आरबीआई का प्रतिरोध यह सवाल उठाता है कि क्या सरकार उस चीज को ठीक करने की कोशिश कर रही है जो खराब ही ना हुआ है?
शायद ही हमें कभी यह देऽेने को मिला हो कि भारत में एक नियामक और वह भी देश के केंद्रीय बैंक ने सार्वजनिक रूप से प्रस्तावित कानून के लिए की गयी सिफारिशों पर असंतोष जताया हो।

Download pdf to Read More