ARTICLE DESCRIPTION

संपादकीय

राजद्रोह-पर-बहस

14.09.18 33 Source: The Hindu
राजद्रोह-पर-बहस

शासक कहीं का भी हो वो हर जगह असंतोष और निष्ठा को उत्तेजित करने के प्रयासों का विरोध करता है और उसका निदान करने की कोशिश करता है। यही कारण है कि औपनिवेशिक शासन के तहत अधिनियमित भारतीय दंड संहिता की धारा 124-ए, लॉ बुक पर अभी तक कायम है...... Download pdf to Read More